मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सीएम योगी आदित्यनाथ को लिखा पत्र, जानिए किस चीज की मांग की।

Comments Off on मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सीएम योगी आदित्यनाथ को लिखा पत्र, जानिए किस चीज की मांग की।

नीतीश कुमार ने योगी आदित्यनाथ को लिखा पत्र :

दरअसल आपको बता दूं कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हाल ही में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को एक पत्र लिखा है जी हां आपको बता दूं कि शुक्रवार को सीएम नीतीश कुमार ने अपनी आवाज से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सिताबदियारा में लोकनायक जयप्रकाश नारायण स्मृति भवन सह पुस्तकालय से मुख्य सड़क तक नवनिर्मित सड़क का लोकपर्ण किया।

सीएम नीतीश कुमार ने सिताबदियारा को कई उपलब्धियां दी है तथा उन्होंने इस पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि हमारे दिल में सिताबदियारा और जयप्रकाश नारायण के लिए बहुत ही महत्व है इसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जयप्रकाश नारायण की जन्मस्थली के विकास नामक गेंद को बीजेपी के खेमे में डाल दिया।

सीएम नीतीश कुमार ने जयप्रकाश नारायण की जन्मस्थली के विकास को लेकर बीजेपी को घेरा, हाल ही में सीएम नीतीश कुमार ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को पत्र लिखा जिसमें उन्होंने लोकनायक जयप्रकाश नारायण स्मृति भवन को विकास कराने की गुजारिश की।

जी हां आपको बता दूं कि लोकनायक जयप्रकाश नारायण जी का जन्म स्थली जगह यूपी के सीमा में आता है जिसको लेकर सीएम नीतीश कुमार ने योगी आदित्यनाथ जी को पत्र लिखा और इसमें बताया कि इनके जन्माष्टमी को विकास करने की कोशिश किया जाए।

नीतीश कुमार ने पत्र में इन मुद्दों को उठाया :

दरअसल आपको बता दूं कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोकनायक जयप्रकाश नारायण जी की जन्मभूमि सिताबदियारा जो कि उत्तर प्रदेश क्षेत्र के सीमा में आता है जिसको निर्माण एवं कार्यों को संपूर्ण करने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ जी से गुजारिश की।

सीएम नीतीश कुमार ने पत्र में जिक्र किया कि लोकनायक जयप्रकाश नारायण जी का जन्म भूमि सिताबदियारा है जोकि बिहार एवं उत्तर प्रदेश की सीमा के पास गंगा एवं घाघरा नदी के संगम पर बिहार के सारण जिला में अवस्थित है यहां पर बारिश के दौरान गांव की भूमि के कटाव का खतरा बना रहता है बीते कई सालों से इस जगहों पर स्थिति काफी दयनीय हो चुकी है इस स्थिति को मध्य नजर रखते हुए बिहार सरकार ने अपनी सीमा में घाघरा नदी पर रिंग बांध बना रहा है लेकिन यूपी वाले सीमा में अभी तक कुछ भी नहीं हुआ है जिसको लेकर योगी आदित्यनाथ जी से उन्होंने बताया कि इस कार्य को पूरा करने की कोशिश करें।