गोरखपुर में बनेंगे 240 किलोमीटर लम्बी रेलमार्ग जानिए क्या है खास :

आपको बता दूं उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में 240 किलोमीटर लम्बी रेलमार्ग बनाया जाएगा ,जिसका सर्वे  लेडार यानी की लाइट डिटेक्शन एंड रेंजिंग से किया जायेगा।

जानिए कहा से कहा तक का है प्रोजेक्ट :

आपको बता दूं कि उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में 240 किलोमीटर लम्बी रेलमार्ग बिछाने की मंजूरी मिली है जो की हैं जो उत्तर प्रदेश के खलीलाबाद – बहराइच के बीच बनाया जाएगा ,जिसका सर्वे लेडार यानी की लाइट डिटेक्शन एंड रेंजिंग से किया जाएगा, आपको बता दूं यह सर्वे की प्रक्रिया दिसंबर तक पूरा होने की संभावना जताई गई हैं  जिसके लिए पूर्वोत्तर रेलवे ने टेंडर लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

आपको बता दूं कि लेडार यानी कि लाइट डिटेक्शन एंड रेंजिंग के माध्यम से सभी जगहों का सर्वे किया जाएगा जिससे यह भी पता चल जाएगा कि रेलवे लाइन की अनुमति हाईट कितनी होनी चाहिए , स्टेशन की चौड़ाई कितनी होनी चाहिए, यह सर्वे की प्रक्रिया दिसम्बर तक पुरा कर लिया जाएगा। जिसके बाद से रेलवे लाइन बिछाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

जानिए कितने हेक्टेयर भूमि का किया जायेगा अधिग्रहण :

आपको बता दूं कि उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में रेल मार्ग बिछाने की बात की गई है जो उत्तर प्रदेश के खलीलाबाद – बहराइच के 240 किलोमीटर लम्बी रेलमार्ग बिछाने की मंजूरी मिली है जिसके लिए करीब 263 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण किया जाएगा। जिसके लिए पूर्वोत्तर रेलवे द्वारा इसका अधिग्रहण किया जा रहा है।

जानिए कब तक है कार्य पूरा करने का लक्ष्य:

दरअसल आपको बता दूं कि उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में रेल मार्ग बिछाने के प्रस्ताव को मंजूरी मिली हैं जो की खलीलाबाद – बहराइच के बीच बिछाने की बात है जिसके लिए लेडार से भूमि का सर्वे किया जा रहा है जो दिसम्बर तक पुरा किया जाएगा, जिसके बाद पूर्वोत्तर रेलवे द्वारा भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू कर दिया जायेगा।  यह प्रोजेक्ट को पूरा होने का लक्ष्य 2025 तक निर्धारित किया जाएगा।

 जानिए कितना का है प्रोजेक्ट :

आपको बता दूं उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में रेल मार्ग बिछाने के प्रस्ताव को मंजूरी मिली हैं जिसका ब्यौरा इस प्रकार हैं

रेल मार्ग की लंबाई : 240किलोमीटर

कुल लागत : 4500 करोड़

स्टेशन: 20

हाल्ट स्टेशन:12

बड़े पुल एंड छोटे पुल : 32&86

Author

Write A Comment