15 अगस्त के बाद बदल जाएगा काशी विश्वनाथ मंदिर का नज़ारा :

दरअसल आपको बता दू की काशी विश्वनाथ मंदिर में आए सभी श्रद्धालु को गंगा घाट से सीधे मंदिर में प्रवेश करने नही दिया जा रहा था लेकिन 15 अगस्त के बाद से गंगा घाट के आस पास काम चल रही है इस काम को पूरा होने के बाद सभी श्रद्धालु को मंदिर में सीधे प्रवेश की अनुमति मिल जायेगी ,जिससे श्रद्धालु को काफी सुविधा होगा।

आपको बता दू की गंगा घाट के आस पास के काम को पूरा होने के बाद दूसरे चरण में  जलानसेल घाट और ललिता घाट को जोड़ने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। जिसके लिए करीब 60 करोड़ अतिरिक्त की लागत का खर्च किया जायेगा।

आपको बता दूं कि इस से पहले भी पीएम नरेंद्र मोदी जी ने 434 करोड़ रुपया इस परियोजना के पहले चरण में दिए थे। इस काशी विश्वनाथ मंदिर में सावन मास के पहले सोमबारी में शिव भक्तों का रिकॉर्ड टूट गया।

आपको बता दूं दूसरे चरण का कार्य पूरा होने के बाद यहां आपने वाले श्रद्धालुओ गंगा दर्शन के साथ ही खरीदारी का भी फायदा उठा सकेंगे ।

काशी विश्वनाथ मंदिर निर्माण कार्य को लेकर मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल की ओर से बताया गया की दूसरे चरण का काम लगभग पूरा हो गया है।

आपको बता दू की काशी विश्वनाथ धाम में गंगा घाट के समीप कार्य को पूरा करने के बाद सभी श्रद्धालु आसानी से सीधे मंदिर में प्रवेश कर सकेंगे। यहा श्रद्धालु को सुविधा केंद्र में समान रखने का व्यवस्था किया जाएगा जिससे श्रद्धालु को किसी भी तरह की दिक्कत का सामना ना करना परे।

आपको बता दूं कि सावन की पहले सोमवारी में ही लाखों की संख्या में भोले भक्त के श्रद्धालु पहुंचे गए थे आपको बता दूं कि सावन मास में काशी विश्वनाथ धाम में  भोले बाबा के भक्त का भीड़ हर साल लगता है।

 

Author

Write A Comment