इंडियन रेलवे : महिलाओं के लिए बड़ी खुशखबरी, रेल मंत्री ने दिया बड़ी तोहफा जानिए क्या है खास।

Comments Off on इंडियन रेलवे : महिलाओं के लिए बड़ी खुशखबरी, रेल मंत्री ने दिया बड़ी तोहफा जानिए क्या है खास।

महिलाओं को मंत्री की तरफ से मिला बड़ी तोहफा :

दरअसल आपको बता दूं कि भारतीय रेलवे में महिलाओं के लिए बड़ी तोहफा मिली है जी हां आपको बता दूं कि रेल मंत्री के द्वारा बताया गया कि मेल और एक्सप्रेस ट्रेन में महिलाओं के लिए स्लीपर क्लास में 6 वर्थ को आरक्षित रखा जाएगा, इसके साथ ही कई अन्य सुविधाएं भी उन्होंने महिलाओं के लिए दिया है।

दरअसल आपको बता दूं कि भीड़ भाड़ की वजह से महिलाओं को ट्रेन में सफर करना काफी मुश्किल बन जाता था क्योंकि भीड़ भाड़ हो जाने से महिलाएं को काफी परेशानी होता था इस चीज को ध्यान में रखते हुए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया कि जिस तरह से बस और मेट्रो ट्रेन में महिलाओं के लिए सीट का रिजर्वेशन रखा जाता है उसी तरह भारतीय रेलवे में भी महिलाओं के लिए सीट को आरक्षित किया जाएगा, जिससे महिलाओं को किसी भी  तरह की समस्याएं नहीं होगी।

स्लीपर क्लास में 6 वर्थ होंगे आरक्षित :

दरअसल आपको बता दूं कि काफी लंबी दूरी की ट्रेन में महिलाओं के लिए सीट रिजर्व रखा जाएगा ताकि महिलाएं को आसानी से सीट मिल जाए इसके साथ ही आपको बता दूं कि रेल मंत्री ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए विशेष प्लान भी तैयार किया है जिससे महिलाओं को सफर में किसी भी तरह की समस्याएं ना पाए।

आपको बता दूं कि रेल मंत्री ने बताया कि एक्सप्रेस और मेल ट्रेन में महिलाओं के लिए स्लीपर क्लास में 6 वर्थ को आरक्षित किया जाएगा, दरअसल आपको बता दूं कि राजधानी एक्सप्रेस गरीब रथ एक्सप्रेस और दुरंतो एक्सप्रेस सहित गाड़ी में वातानुकूलित एक्सप्रेस ट्रेन की थर्ड एसी में 6 वर्थ को महिलाओं के लिए आरक्षित किया गया है।

आपको बता दूं कि ट्रेन के प्रत्येक कोच में जो लोअर बर्थ और 3 टियर एसी कोच में चार से पांच लोअर बर्थ और 2 टियर एसी में तीन से चार लोअर बर्थ सीनियर सिटीजन तथा 45 वर्ष से अधिक की उम्र वाली महिलाओं के लिए सीट आरक्षित किया गया है तथा इसके साथ ही गर्भवती महिलाओं के लिए भी यह व्यवस्था की गई है।

बता दूं कि रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया है कि महिला यात्री को सुरक्षा प्रदान करना मेरा कर्तव्य है और मैं इसके लिए हर संभव प्रयास करूंगा इसके साथ ही आपको बता दूं कि इन्होंने सफर में महिलाओं की सुरक्षा के लिए आरपीएफ और सीआरपीएफ और जिला पुलिस यात्रियों को सुरक्षा के लिए तैनात किया जाएगा।